Dhanteras image

Dhanteras date and time in hindi 2017

Posted by

आईये जानते हैं धनतेरस की पूजा और मुहूर्त का समय

Dhanteras को सोने या चांदी में निवेश करने के लिए कई लोगों द्वारा चुना गया दिन है। धनतेरस 2017 दिनांक 17 अक्टूबर है।

  • धन तेरस तिथि : 17 अक्तूबर 2017, मंगलवार6
  • धनतेरस पूजन मुर्हुत : सायं 05:35 बजे से 06:20 बजे तक
  • प्रदोष काल : सायं 05:35 से रात्रि 08:11 बजे तक
  • वृषभ काल : सायं 06:35 बजे से रात्रि 08:20 बजे तक
  • त्रयोदशी तिथि प्रारंभ : सायं 04:15 से, 27 अक्तूबर 2016
  • त्रयोदशी तिथि समाप्त : सायं 06:20 बजे, 28 अक्तूबर 2016

Dhanteras date
image credit: pinimg.com





दिवाली पांच दिनों का त्योहार है, जिसकी शुरूआत ‘धनतेरस’ से होती है। इस बार ये त्योहार 17 अक्टूबर को पड़ रहा है। इस दिन लोग घरों के लिए बर्तन और सोना-चांदी खरीदते हैं।

धनतेरस पूजा दिनांक और समय के लिए उज्जैन, हिंदी में धनतेरस पूजा विधि – पूजा समय और तिथि: हाय सभी प्रिय आगंतुकों, आप और आपके परिवार के लिए एक बहुत खुश और खुश धनतेरस। दसरा आने वाला है और सभी लोग इस भयानक दिन का आनंद लेने के लिए खुश हैं। धनतेरस भारत में सबसे लोकप्रिय त्योहार में से एक है। यह एक धार्मिक उत्सव है जो पूरे विश्व में हिंदू लोगों द्वारा मनाया जाता है।

Dhanteras date end time
Photo credit: inkhabar.com

इस दिन लोगों ने देवी दुर्गा और भगवान कुबेर को अपने जीवन में धन की पूजा की। धनवंत्र की भी इस दिन पूजा की जाती है। कार्तिक माह के कृष्ण पक्ष के 13 वें दिन बंदी दिवाली से 2 दिन पहले धनतेरस मनाया जाता है। इस दिन को हिंदू कैलेंडर के रूप में मनाया जाता है। लोग गोल्ड, रजत आदि की खरीदारी करते हैं क्योंकि धनतेरस पर नई चीजें खरीदने के लिए शुभकामनाएं माना जाता है।

धनतेरस 2017(Dhanteras 2017)

साल 2017 में धनतेरस का त्यौहार 17 अक्टूबर को मनाया जाएगा। जानें कैसे करें धनतेरस के दिन पूजा: Dhanteras Puja Vidhi in Hindi


Dhanteras image
image credit: i.ytimg.com

हिन्दू समाज में धनतेरस सुख-समृद्धि, यश और वैभव का पर्व माना जाता है। इस दिन धन के देवता कुबेर और आयुर्वेद के देव धन्वंतरि की पूजा का बड़ा महत्त्व है। हिन्दू पंचांग के अनुसार कार्तिक मास की त्रयोदशी तिथि को मनाए जाने वाले इस महापर्व के बारे में स्कन्द पुराण में लिखा है कि इसी दिन देवताओं के वैद्य धन्वंतरि अमृत कलश सहित सागर मंथन से प्रकट हुए थे, जिस कारण इस दिन धनतेरस (Dhanteras) के साथ-साथ धन्वंतरि जयंती भी मनाई जाती है।

Dhanteras image hd

2017 धनतेरस पूजा, धन्त्रोधी पूजा

धनत्रयोदशी जिसे धनतेरस के रूप में भी जाना जाता है, पांच दिन का दीवाली उत्सव का पहला दिन है। धंतरायदाशी के दिन, दूधिया सागर के मंथन के दौरान देवी लक्ष्मी महासागर से बाहर निकल आए थे। इसलिए, देवी लक्ष्मी, भगवान कुबेर के साथ जो धन के भगवान हैं, त्रौदशी के शुभ दिन पर पूजा की जाती है। हालांकि, अष्टमी पर लक्ष्मी पूजा के दो दिन के बाद धन्त्रोधीशी अधिक महत्वपूर्ण माना जाता है।




Dhanteras hd image
image credit: js.newsx.com

Dhanteras hd wallpaper
image credit: indianexpress.com
Dhanteras pooja image
credit: i.ytimg.com

 image of Dhanteras

laxmi pujan hd Photos
credit: rudraksha-ratna.com



Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *