intzar-shayri

Intezaar shayari – इंतजार शायरी

Posted by

Intezaar shayari – इंतजार शायरी

Bahut chaaha usako jo ham pa na sake,
khyaalon mein kisee aur ko la na sake.
usako dekh ke ansoo to ponchh ke lie,
lekin kisee aur ko dekhakar muskura na sake.

बहुत चाहा उसको जिसे हम पा न सके,
ख्यालों में किसी और को ला न सके.
उसको देख के आंसू तो पोंछ लिए,
लेकिन किसी और को देख के मुस्कुरा न सके.

???????????

Intezaar shayari for girlfriend

khush naseeb hote hain baadal,
jo door rahakar bhee zameen par barasate hain,
aur ek badanaseeb ham hain,
jo ek hee duniya mein rahakar bhee.. milane ko tarasate hain.

खुश नसीब होते हैं बादल,
जो दूर रहकर भी ज़मीन पर बरसते हैं,
और एक बदनसीब हम हैं,
जो एक ही दुनिया में रहकर भी.. मिलने को तरसते हैं.

???????????





 

Intezaar shayari in hindi 140 words

zindagee milatee hain ek baara,
maut aatee hain ek baara,
dostee hotee hain ek baar,
pyaar hota hain ek baara,
dil tootata hain ek baar,
ajab sab kuchh hota hain ek baara,
to phir aapakee yaad kyon aatee hain baar baar!!

ज़िन्दगी मिलती हैं एक बार,
मौत आती हैं एक बार,
दोस्ती होती हैं एक बार,
प्यार होता हैं एक बार,
दिल टूटता हैं एक बार,
जब सब कुछ होता हैं एक बार,
तो फिर आपकी याद क्यों आती हैं बार बार

???????????

Intezar attitude shayari

beete pal vaapas la nahin sakate,
sookhe phool vaapas khila nahin sakate,
kabhee kabhee lagata hai aap hamen bhool gae,
par dil kahata hai ki aap hamen bhula nahee sakate

बीते पल वापस ला नहीं सकते,
सूखे फूल वापस खिला नहीं सकते,
कभी कभी लगता है आप हमें भूल गए,
पर दिल कहता है कि आप हमें भुला नही सकते

???????????




aankhon mein teree doob jaane ko dil chaahata hai!
ishk mein tere barbaad hone ko dil chaahata hai!
koee sambhaale mujhe, bahak rahe hai mere kadam!
vafa mein teree mar jaane ko dil chaahata hai

आँखों में तेरी डूब जाने को दिल चाहता है!
इश्क में तेरे बर्बाद होने को दिल चाहता है!
कोई संभाले मुझे, बहक रहे है मेरे कदम!
वफ़ा में तेरी मर जाने को दिल चाहता है!

???????????

Intezaar shayari images in hindi

is dil ko kisee kee aas rahatee hai,
nigaahon ko kisee soorat kee pyaas rahatee hai,
tere bina kisee cheez kee kamee to nahee,
par tere begair jindagee badee udaas rahatee hai..

इस दिल को किसी की आस रहती है,
निगाहों को किसी सूरत की प्यास रहती है,
तेरे बिना किसी चीज़ की कमी तो नही,
पर तेरे बेगैर जिन्दगी बड़ी उदास रहती है..

???????????




tere pyaar ka sila har haal mein denge,
khuda bhee maange ye dil to taal denge,
agar dil ne kaha tum bevafa ho,
to is dil ko bhee seene se nikaal denge.

तेरे प्यार का सिला हर हाल में देंगे,
खुदा भी मांगे ये दिल तो टाल देंगे,
अगर दिल ने कहा तुम बेवफ़ा हो,
तो इस दिल को भी सीने से निकाल देंगे।

???????????

 

ham dilaphek aashiq hai,
har kaam mein kamaal kar de,
jo vaada kare vo poora har haal mein kar de,
kya jarurat hai jaanoo ko lipastik lagaane kee,
ham choom-choom ke hee honth usake laal kar de




हम दिलफेक आशिक़ है,
हर काम में कमाल कर दे,
जो वादा करे वो पूरा हर हाल में कर दे,
क्या जरुरत है जानू को लिपस्टिक लगाने की,
हम चूम-चूम के ही होंठ उसके लाल कर दे |

???????????

 

apanee jindagee ke alag asool hain,
yaar kee khaatir to kaante bhee kabool hain,
hans kar chal doon kaanch ke tukadon par bhee,
agar yaar kahe, yah mere bichhae hue phool hain

अपनी जिंदगी के अलग असूल हैं,
यार की खातिर तो कांटे भी कबूल हैं,
हंस कर चल दूं कांच के टुकड़ों पर भी,
अगर यार कहे, यह मेरे बिछाए हुए फूल हैं.

???????????

 

badalana aata nahin hame mausam kee tarah,
har ik rut mein tera intazaar karate hain,
na tum samajh sakoge jise qayaamat tak,
kasam tumhaaree tumhe ham itana pyaar karate hain

बदलना आता नहीं हमे मौसम की तरह,
हर इक रुत में तेरा इंतज़ार करते हैं,
ना तुम समझ सकोगे जिसे क़यामत तक,
कसम तुम्हारी तुम्हे हम इतना प्यार करते हैं|

???????????





teree aavaaz tere roop kee pahachaan hai,
tere dil kee dhadakan mein dil kee jaan hai,
na sunoon jis din teree baaten,
lagata hai us roz ye jism bejaan hai.

तेरी आवाज़ तेरे रूप की पहचान है,
तेरे दिल की धड़कन में दिल की जान है,
ना सुनूं जिस दिन तेरी बातें,
लगता है उस रोज़ ये जिस्म बेजान है।

???????????

 

jis jis ne muhabbat mein,
apane mahaboob ko khuda kar diya,
khuda ne apane vajood ko bachaane ke lie, unako juda kar diya
kitana vaakiph thee vo meree kamajoree se,
vo ro detee thee, aur main haar jaata tha..

जिस जिस ने मुहब्बत में,
अपने महबूब को खुदा कर दिया,
खुदा ने अपने वजूद को बचाने के लिए,उनको जुदा कर दिया|
कितना वाकिफ थी वो मेरी कमजोरी से, वो रो देती थी, और मैं हार जाता था..

???????????



Na dil se hota hai, na dimaag se hota hai,
ye pyaar to ittefaaq se hota hai,
par pyaar karake pyaar hee mile,
ye ittefaaq bhee kisee-kisee ke saath hota hai.

ना दिल से होता है, ना दिमाग से होता है,
ये प्यार तो इत्तेफ़ाक़ से होता है,
पर प्यार करके प्यार ही मिले,
ये इत्तेफ़ाक़ भी किसी-किसी के साथ होता है।

???????????


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *