माउंट आबू में देखने लायक स्थल

Posted by

माउंट आबू | mount abu travel guide

माउंट आबू




भारत देश के पश्चिमी तट पर राजस्थान में आया हुआ एक पहाड़ी नगर है माउंट आबू गुजरात के नजदीकी है माउंट आबू भारत के अरवल्ली गिरी मालाओं में आता है और सबसे बड़ा पहाड़ माउंट आबू है  माउंट आबू एक सुंदर देखने लायक हिल स्टेशन है |

माउंट आबू को ‘अर्बुदरान्य’ भी कहा जाता है | जिसका नाम नाग देवता ‘अर्बुदा’ के नाम पर पड़ा। भगवान शिव के बैल नंदी की रक्षा करने के लिए नागदेवता इस पहाड़ी के नीचे आए थे। अर्बुदारन्य का नाम बाद में बदलकर ‘अबू पर्वत’ या ‘माउंट आबू’ कर दिया गया। ऐतिहासिक रूप से यह स्थान गुर्जरों या गुज्जरों द्वारा बसाया गया है।

संत वशिष्ठ ने पृथ्वी से असुरों के विनाश के लिए यहां यज्ञ का आयोजन किया था। जैन धर्म के चौबीसवें र्तीथकर भगवान महावीर भी यहां आए थे। उसके बाद से माउंट आबू जैन अनुयायियों के लिए एक पवित्र और पूजनीय तीर्थस्थल बना हुआ है।



माउंट आबू में देखने लायक स्थल | Mount Abu places list

  1. नक्की झील
  2. सनसेट पॉइंट
  3. टोक रोक
  4. म्यूजियम और आर्ट गैलरी
  5. गुरु-शिखर
  6. अचलगढ़
  7. दिलवाडा जैन मंदिर

1. नक्की झील | Nakki lake

nakki-jheel-mount-abu

प्राचीन काल में जाना जाता है कि नक्की झील को एक रसिया बालम नाम के व्यक्ति ने अपने नाखूनों से झील का निर्माण किया था | रसिया बालम प्राचीन समय में माउंटआबू में काम करने के लिए गया था और उसे वहां राजकन्या से प्यार हो गया और फिर राजकन्या के पिता ने शर्त रखी कि अपने नाखूनों से एक ही रात में झील बना सकती हो तो मैं अपनी कन्या का विवाह तुम्हारे साथ कर दूंगा और कन्या को पाने के लिए रसिया बालम ने इस झील का निर्माण किया था |

आज के युग में नक्की झील एक देखने लायक और सुंदर पर्यटन स्थल है  | लोग वहां वोटिंग करने के लिए जाते हैं | वहां घूमने के लिए जाते हैं | इस झील में लोग गर्मियों के मौसम में ज्यादातर जाते हैं |



Book Hotel

2. सनसेट पॉइंट | Sunset point

mount abu city toursunset-point-abu

सनसेट पॉइंट माउंट आबू में पर्यटकों के लिए शाम और सुबह देखने लायक कुदरती सौंदर्य का निर्माण देखने को मिलता है | इसीलिए यहां सूर्योदय और सूर्यास्त के समय लोक खास देखने के लिए जाते हैं और इसी वजह से सनसेट पॉइंट एक आकर्षक और देखने लायक जगह है |



Book Flight

3. टोक रोक | Tod rock

mount abu darshantoad-rok-abu

मेंढक के आकार से मिलती चट्टान को देखकर यूँ प्रतीत होता है जेसे यह मेंढक अभी झील में कूद पड़ेगा । इसी के पास एक और चट्टान है जिसे नन रौक के नाम से जाना जाता है यह चट्टान घूँघट निकाले हुई स्त्री के समान दिखती है । ये दोनों चट्टानें दूर से पर्यटकों को आकर्षित करती हैं । इसीलिए ये आकर्सक और देखने लिए है |



Book Hotel

4. म्यूजियम और आर्ट गैलरी | Museum art gallery

art-gallary-abu

यहां राजभवन है राजभवन में अलग-अलग तरह के आर्ट गैलरी भी है और  म्यूजियम है और आर्ट गैलरी है |

Book Flight

5. गुरु-शिखर | Guru shikhar

mount abu palaceguru-shikhar

अरावली पर्वतमाला का उच्चतम बिंदु है। माउंट आबू से १५ किमी.दूर गुरु शिखर अरावली पर्वत शृंखला की सबसे ऊँची चोटी है। पर्वत की चोटी पर बने इस मंदिर की शांति दिल को छू लेती है। गुरू दत्तात्रय मंदिर एक प्राचीन मंदिर है जो इस पर्वत के ऊपर स्थित है। भगवान दत्तात्रय को समर्पित है जो दिव्य त्रिमूर्ति भगवान ब्रह्मा, भगवान विष्णु और भगवान शिव के अवतार माने जाते हैं। इस पर्वत पर स्थित अन्य मंदिर शिव मंदिर, मीरा मंदिर और चामुंडी मंदिर है।


Book Hotel

6.अचलगढ़ | Achalgarh

achalghath-mount-abu

माउन्ट आबू से उत्तर दिशा में अचलगढ़ की पहाड़ियों है | और वहा भगावन शिव का मंदिर है | एक मात्र हिल स्टेशन माउंट आबू में भगवान शिव के कई प्राचीन मंदिर है। स्कंद पुराण के मुताबिक वाराणसी शिव की नगरी है तो माउंट आबू भगवान शंकर की उपनगरी । अचलेश्वर माहदेव मंदिर माउंट आबू से लगभग 11 किलोमीटर दूर अचलगढ़ है ।



Book Flight

7.दिलवाडा जैन मंदिर | Delvada jain temple

mount abu travel guidedilvada-mandir

यह जनों का मंदिर है और यहां पांच मंदिर है और यह मंदिर संगमरमर की नक्शी से बने हुए हैं |  और ज्यादातर लोग इस मंदिर का भ्रमण करते हैं इन पांच मंदिरों का नाम राजस्थान के गांव के नाम पर से रखा गया है इन मंदिरों में पुरानी कलाकृति और सुंदरता देखने को मिलती है इसलिए यह मंदिर पर्यटकों के लिए आकर्षित रहा है |



Book Hotel

माउंट आबू तक कैसे जाएं : How to reach mount abu

हवाई अड्डा :

उदयपुर का एयरपोर्ट से 185 किलोमीटर की दूरी पर है |

अहमदाबाद एयरपोर्ट 225 किलोमीटर की दूरी पर है |

ट्रेन :

समीपस्थ रेल्वे स्टेसन जो आबू से 28 किलोमीटर दूर है |

रोड द्वारा :

जयपुर से माउंट आबू  [7 h  23 min (494.2 km)]Bus Booking

उदयपुर से माउंट आबू  [2 h 48 min (163.3 km)]

अहमदाबाद से माउंट आबू  [4 h 31 min (225.4 km)]

मेहसाना से माउंट आबू [3 h 4 min (151.7 km)]
Also Read: Sridevi biography


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *